आइये जाने वास्तु और महिलाओं का सम्बन्ध-- प्रिय पाठकों/मित्रों, हम सभी जानते हैं की किसी भी घर की स्वामिनी गृहणि होती है..  उसी को सारा दिन घर पर रहना होता है.. इसलिए घर की हर वस्तु का असर भी उसी पर...
जानिए वास्तु अनुसार कैसी हो आपके घर की दहलीज या चौखट---🏻🏻✍🏻✍🏻🏻🏻तिक्खट की जगह अगर चौखट होगी तो कुनबा बढ़ेगा और संगठित रहेगा।🏻🏻समझें दरवाजे की चौखट और राहु ग्रह ( दहलीज) का सम्बंध---✍🏻✍🏻🏻🏻🏻वास्तुशास्त्र के अनुसार किसी भी भवन या ऑफिस...
क्या हें शेर/सिंह  मुखी प्लाट/भूखंड  के लाभ और हानियाँ???आइये जाने भूमि /प्लाट के बारे में--- भवन निर्माण के लिए सबसे पहले भूमि का चयन किया जाता है। हर तरह के प्राकृतिक प्रभावों का संबंध प्रत्यक्ष रूप से भूखंड के आकार-प्रकार पर...
जानिए वास्तु अनुसार केसे रखें ब्रह्म स्थान/ ब्रह्म स्थल का रखे ध्यान ???? पृथ्वी, आकाश, जल, अग्नि एवं वायु इन पंचतत्वों तथा दसों दिशाओं के कल्याणकारी सूत्र एवं सिद्धान्त ही वास्तु शास्त्र की मूल अवधारणा है। प्रकृति के इन नियमों...
भवन निर्माण संबन्धी (वास्तु पद्धति/वास्तु सूत्र से  भवन निर्माण )वास्तु सूत्र----- वास्तुमूर्तिः परमज्योतिः वास्तु देवो पराशिवःवास्तुदेवेषु सर्वेषाम वास्तुदेव्यम --समरांगण सूत्रधार, भवन निवेश वास्तुशास्त्र---अर्थात गृहनिर्माण की वह कला जो भवन में निवास कर्ताओं की विघ्नों, प्राकृतिक उत्पातों एवं उपद्रवों से रक्षा करती है. देवशिल्पी...
प्रिय पाठकों/मित्रों, पुरातन काल से ही रत्नों का प्रचलन रहा है | मानिक मोती मूंगा पुखराज पन्ना हीरा और नीलम ये सब मुख्य रत्न हैं | इनके अतिरिक्त और भी रत्न हैं जो भाग्यशाली रत्नों की तरह  पहने जाते...
जानिए और समझे वैदिक वास्तु सिद्धांत को  --- वास्तु शास्त्र का वैज्ञानिक और आध्यात्मिक आधार है। जिस प्रकार हमारा शरीर पंचमहाभूतों से मिल कर बना है उसी प्रकार किसी भी भवन के निर्माण में पंच महाभूतों का पर्याप्त ध्यान रखा...
घर पर वास्तु दोष होने से व्यक्ति को कई तरह की परेशानियों से सामना करना पड़ता है। आइए जानते हैं घर पर मौजूद 20 तरह के वास्तु दोष कौन-कौन से होते हैं और इसको कैसे दूर किया जा सकता...
दुर्गा सप्तशती पाठ---अद्भुत शक्तियां प्रदान करता है- नवरात्र के दौरान माता को प्रसन्न करने के लिए साधक विभिन्न प्रकार के पूजन करते हैं जिनसे माता प्रसन्न उन्हें अद्भुत शक्तियां प्रदान करती हैं। ऐसा माना जाता है कि यदि नवरात्र में...
जान‍िए राहु के लक्षण और बचने के उपाय को-- ग्रहण लगने के वैज्ञान‍िक तथ्‍य भले ही अलग हों लेकिन पौराण‍िक मान्‍यता है क‍ि ग्रहण राहु के कारण लगता है। यानी क‍ि जब राहु सूर्य या चंद्रमा को ग्रसता है तब...

प्रख्यात लेख

मेरी पसंदीदा रचनायें

error: Content is protected !!